SDM Full Form In Hindi? एसडीएम क्या है? एसडीएम कैसे बने-2021

Spread the love

एसडीएम कैसे बने – SDM Full Form In Hindi – दोस्तो नौकरी तो सभी करते है और पैसे भी हर कोई कमाना चाहता है। यदि सरकारी नौकरी की बात करे तो उसका महत्व समाज में कुछ और ही है। समाज के लोग सरकारी नौकरी करने वाले को अलग ही नजरियों से देखते है।सरकारी नौकरी पाने के लिए जितनी बड़ी पोस्ट होगी, उतनी ही बड़ी मेहनत करनी पड़ती है।

यदि आप भी एसडीएम बनना चाहते है और एसडीएम के बारे में जानकारी ढूंढ रहे है जैसे – एसडीएम कौन होता है, एसडीएम क्या काम करता है, SDM Full Form क्या होता है, एसडीएम का वेतन (SDM salery) कितना होता है, एसडीएम के क्या कार्य होते है, एसडीएम के अधिकार, एसडीएम बनने की योग्यता और कई ऐसे सवाल जिन्हे आप जानना चाहते है तो आप बिल्कुल सही पोस्ट में आए है। इस आर्टिकल में हम आपको SDM Ka full form kya hai और एसडीएम से जुड़ी पूरी जानकारी के बारे में बताने वाले है, आप इस पोस्ट को अंत तक पूरी पढ़े।

एसडीएम का क्या मतलब होता है (SDM Meaning in Hindi)

एसडीएम का मतलब एक ऐसा बड़ा अधिकारी होता है जो मुख्य रूप से अपने जिले में प्रशासनिक, विकास, न्याय, वस्वस्था बनाने की जिम्मेदारी को पूरी निष्ठा और ईमानदारी से निभाता है।

जीवन में हम सब अपने पसंद के फिल्ड में कामयाब होना चाहते है जैसे कुछ लोग डाक्टर बनना चाहते हैं तो कुछ Engineer, business Man, तो कोई वकील बनना चाहता है। वहीं कुछ लोग चाहते है कि वे UPSC , PSC जैसी परीक्षा पास कर DM, SDM बनकर जनता की सेवा करे।

लेकिन आज के समय में बढ़ती शिक्षित बेरोजगारी की समस्या के कारण आज सभी क्षेत्रों में कॉम्पिटिशन बहुत तेजी से बढ़ता जा रहा है। आज सरकारी नौकरी पाने के लिए विद्यार्थी अपने स्कूल टाइम से ही अपने लक्ष्य के प्रति परिश्रम करने लगते है। यदि आप sdm बनना चाहते है तो बिना देरी करे चलिए जानते है एसडीएम कैसे बने SDM Full Form in hindi की पूरी जानकारी।

SDM Full Form

What is the full form of SDM in English – “Sub Divisional Magistrate”.

एसडीएम कैसे बने - SDM Full Form In Hindi

SDM Full Form In Hindi

SDM Ka full form“उप प्रभागीय न्यायधीश”.

एसडीएम के फुल फार्म को हम इस प्रकार भी समझ सकते है

  • S (एस) – Sub (उप)
  • D (डी) – Divisional/District (प्रभागीय/जिला)
  • M (एम) – Magistrate (न्यायधीश)

एसडीएम कौन होता है (SDM Full Form – Sub Divisioal Magistrate.

एसडीएम एक उच्च रैंक का सरकारी अधिकारी होता है। SDM राज्य प्रशासनिक सेवा (PCS) में सबसे ऊपर का पद होता है। प्रत्येक जिले में केवल एक ही एसडीएम होता है। भारत में एसडीएम के पास अपराधिक प्रक्रिया संहिता 1973 के तहत जिले में sub मैजिस्ट्रेट की भूमिका निभाते है।

SDM शब्द में S के बाद DM शब्द आता है जहां DM ka Full Form – District Magistrate होता है।

भारत के सभी राज्यो के जिलों को कई उपखंडों में बांटा गया है उन उपखंड का नेतृत्व एक एसडीएम अधिकारी करता है।

एसडीएम के उन उपखंडों के अंदर कई तहसीले आती है इन तहसील के तहसीलदारों पर SDM का सीधा नियंत्रण होता है।

इन्हे भी पढ़े

UPSC Ka full form क्या होता है?

IAS Ka full form क्या है ? आईएएस कैसे बने?

India Ka full form क्या होता है?

VIP और VVIP Ka full form क्या होता है?

Oats क्या होते है? Oats Meaning in Hindi?

एसडीएम के कार्य

एक एसडीएम को जिले में कई तरह के कार्य को करने होते है जिनमे से कुछ कार्य निम्नलिखित है

  • राजस्व – जिले में जमीन के व्यापार का देखरेख करना।
  • लाइसेंस – कई तरह के लाइसेंस जारी करना।
  • निर्वाचन – राज्यो में राज्यसभा और विधानसभा के सदस्यों का चुनाव प्रक्रिया को अपनी देख रेख में कराना।
  • रजिस्ट्रेशन – विवाह के रजिस्ट्रेशन करना। यदि विवाह के सात साल में महिला की मौत होती है तो यदि एसडीएम चाहे हो उस महिला की मौत की जांच खुद से करने का अधिकार रखता है।
  • विभिन्न प्रकार के वाहन, हथियार का पंजीकरण करना।
  • नवीकरण करना।
  • जिले में भूमि का लेखा जोखा रखना।
  • राजस्व काम काज में प्रमाणपत्र जारी करना जिसमें OBC, St/Sc के जाती प्रमाण पत्र भी आते है।

एसडीएम का वेतन कितना होता है (SDM Salary)

जब आप Sub Divisional Magistrate (SDM) शब्द सुनते है तब आपके दिमाग में एक बार यह सवाल जरूर आया होगा कि आखिर एक एसडीएम का वेतन कितना होता है तो चलिए जानते है

दोस्तो अगर हम SDM की सैलरी की बात करे तो हम आपको बता दे कि एक एसडीएम अधिकारी की सैलरी “वेतन आयोग” द्वारा तय किया जाता है।

वेतन आयोग के अनुसार एक एसडीएम अधिकारी की हर महीने की सैलरी (per Month Salary) 53,100 रू. से लेकर 67,700 रु. तक होती है।

यदि हम एसडीएम की अधिकतम सैलरी की बात करे तो S D M की ग्रेट के अनुसार 1 लाख रु. अधिकतम Par Month की सैलरी होती है।

SDM बनने के लिए योग्यता

Qualifications – यदि आप एसडीएम का फॉर्म भरने जा रहे है तो पहले आप योग्यता के बारे में अवश्य जानकारी जान ले, क्योंकि अधूरी जानकारी हमेशा खतरनाक होती है। तो चलिए जानते है क्या होती है एसडीएम का फॉर्म भरने की योग्यता?

एसडीएम का फॉर्म भरने के लिए आपके पास किसी भी मान्यता प्राप्त University से ग्रेजुएशन की डिग्री होना अनिवार्य है।

ध्यान दे – Diploma वाले विद्यार्थी SDM का फॉर्म नहीं भर सकते हैं।

अगर आप ग्रेजुएशन के आखिरी सेमेस्टर या आखिरी साल के स्टूडेंट्स है या अपने ग्रेजुएशन एक, दो साल पहले ही पास कर लिया है तो भी आप एसडीएम का फॉर्म भर सकते है। ग्रेजुएशन में आप केवल Passing Marks भी लेकर आते है तब भी आप इस परीक्षा में सम्मिलित हो सकते है।

अगर आपने BA, BSc. B.Com, Agriculture, Medical, कंप्यूटर या अन्य किसी भी विषय से स्नातक किया है तो भी आप एसडीएम का फॉर्म भरने के लिए eligible है.

नोट – आप एक बात जरूर ध्यान दे कि यदि आप PSC का एग्जाम्स देना चाहते है तो आप भारत की किसी भी राज्य का PSC का एग्जाम्स दे सकते है। आपका उस राज्य का मूल निवासी होना जरूरी नहीं है, आप केवल भारत के नागरिक हो।

उदाहरण यदि आप उत्तरप्रदेश के नागरिक है और आप महाराष्ट्र – MPSC या बिहार – BPSC की परीक्षा देना चाहते है तो आप आप दे सकते है।

SDM Age Limit

एसडीएम बनने के लिए आपकी कम से कम उम्र 21 वर्ष होनी अनिवार्य है। यदि आपकी उम्र 21 साल से कम है तो आप इन परीक्षाओं में सम्मिलित नहीं हो सकते.

  • General – 21 – 35 वर्ष
  • OBC – 21 – 40 वर्ष
  • St/ Sc – कम से कम 21 – (अधिकतम) No limit.
  • Pwd/ Female – कम से कम 21 – (अधिकतम) No Limit.

SDM कैसे बने – ( Full Form of S D M – Sub Divisional Magistrate)

SDM राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा कंडक्ट कराई जाने वाली भर्तियों में सर्वोच्च पद होता है। भारत के सभी राज्यो में DM, SDM और अन्य अधिकारियों की भर्ती के लिए प्रशासनिक सेवा परीक्षा का आयोजन किए जाते है।

एसडीएम बनने के मुख्यत दो तरीके है

UPSC परीक्षा पास करके बने SDM

UPSC का Full FormUnion Public Service Commission इसे हिंदी में संघ लोक सेवा आयोग कहते है। यदि आप SDM बनना चाहते है तो आपके लिए यूपीएससी पहला तरीका है।

UPSC द्वारा एसडीएम बनने के लिए आपको सबसे पहले किसी भी मान्यता प्राप्त विश्ववद्यालय से ग्रेजुएशन करना जरूरी है। आप अपने स्नातक की पढ़ाई करते समय साथ में यूपीएससी की तैयारी भी कर सकते है।

जैसे ही आपने स्नातक पूरा किया आप यूपीएससी की परीक्षा में सम्मिलित हो, और परीक्षा क्लियर करे। यूपीएससी की परीक्षा को अच्छी रैंक से पास करने के बाद जब आप IAS ऑफिसर बनते है तब आपको शुरुवात में SDM की सीधे पोस्ट मिल जाती है और कुछ साल में प्रमोशन होने के बाद आप DM (District Magistrate) बन सकते है।

PSC परीक्षा पास करके बने SDM

PSC Ka Full FormPublic Service Commission. इसे हिंदी में लोक सेवा आयोग कहते है। यदि आप पीएससी द्वारा SDM बनना चाहते है तो यह आपके लिए यह दूसरा तरीका होगा।

पीएससी (लोक सेवा आयोग) द्वारा आयोजित परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए आपके पास मान्यता प्राप्त विश्ववि्यालय से ग्रेजुएशन होना जरूरी है। यदि आप स्नातक के फाइनल ईयर में भी है तो भी आप इस परीक्षा में सम्मिलित हो सकते है।

PSC द्वारा एसडीएम बनने के लिए आपको PSC परीक्षा में टॉप रेंक हासिल करना अनिवार्य है। जब आप पीएससी परीक्षा में टॉप रेंक में आते है तब आप traning के बाद आप सीधे sdm बनते है और कुछ साल में प्रमोशन होने के बाद DM बन सकते है।

SDM बनने के लिए चयन प्रक्रिया ( SDM Exam Pattern)

UPSC Ka Exams Pattern

दोस्तो यदि आप अपने ग्रेजुएशन के बाद UPSC की परीक्षा में सम्मिलित होकर SDM बनना चाहते है तो हम आपको बताना चाहते हैं कि यूपीएससी की परीक्षा तीन चरणों में होती है

  • Preliminary Exams ( प्री परीक्षा )
  • Mains Exams (मुख्य परीक्षा)
  • Interview

1. Preliminary Exams – यह यूपीएससी परीक्षा का पहला चरण होता है इसमें इस प्रकार से परीक्षा कराई जाती है

PaperMarks
General Studies – 1200
General Studies – 2200 (Only Qualifying)
SDM Full Form in Hindi

2. Mains Exams (मुख्य परीक्षा) – SDM बनने के लिए प्रीलिम्स परीक्षा को क्लियर करने के बाद आपको मुख्य परीक्षा देना पड़ता है जिसमें प्रश्न पत्र और उनके अंक को आप इस टेविल की मदद से समझ सकते है

PaperMarks
Eassy 250
GS – 1250
GS – 2250
GS – 3250
GS – 4250
Optional -1 Paper250
Optional – 2 paper250
Genran Hindi300 (Qualifying)
Genral English300 (Qualifying)
Total 1750
SDM Full Form in Hindi

Interview – यह यूपीएससी परीक्षा का अंतिम चरण होता है। इंटरव्यू के दौरान लोक आयोग आपकी योग्यता का आकलन करती है। यूपीएससी इंटरव्यू में आपको interview लेने वाले पैनल को यह विश्वास दिलाना होगा कि आप इस पोस्ट के लिए सही उम्मीदवार है। यूपीएससी का इंटरव्यू 275 अंक का होता है।

PSC Ka Exams Pattern

दोस्तो यदि आप पीएससी परीक्षा में सम्मिलित होकर SDM बनना चाहते है तो हम आपको बता दे की यूपीएससी की तरह, PSC ka Exams पैटर्न भी तीन चरणों में पूरा होता है जो इस प्रकार है

  • Preliminary Exams
  • Mains Exams
  • Interview

1. Preliminary Exams – पीएससी की प्रीलिम्स परीक्षा में मुख्तः 200 – 200 अंक के दो पेपर होते है। दूसरा पेपर Qualifying होता है दूसरे पेपर में आपको मात्र 33% अंक लाने पड़ते है। पहले पेपर के परिणाम आधार पर आपकी mains परीक्षा के लिए मेरिट लिस्ट तैयार होती है।

2. Mains Exams – प्रीलिम्स परीक्षा को पास करने के बाद आपको मुख्य परीक्षा देना पड़ता है

PaperMarks
Eassy150
GS – 1200
GS – 2200
GS – 3200
GS – 4200
Optional – 1200
Optional – 2200
Hindi 150
SDM Full Form In Hindi

3. Interview – यह पीएससी परीक्षा का अंतिम चरण होता है। इसे पास कने के बाद mains और इंटरव्यू के marks को जोड़कर फाइनल मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है, यदि आप टॉप रेंक पर आते है तो ट्रेनिंग के बाद आप SDM बनते है। इंटरवयू 200 अंक का होता है।

इन्हें भी पढ़ें

# CNG Ka Full Form क्या होता है?

# LPG Ka Full Form क्या होता है?

# AM. PM KA Full Form क्या होता है?

# Ok Ka Full Form क्या होता है?

# Computer Ka Full Form क्या होता है?

# CPU Ka Full Form क्या होता है?

# BA Ka Full Form क्या होता है?

# ATP Ka Full Form क्या होता है?

# यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए?

# यूट्यूब चैनल का नाम क्या रखें?

अक्सर पूछे जाने वाले Questions & Answers

1. Sub Divisional Magistrate को हिंदी में क्या कहते है?
Ans. ” उप प्रभागीय न्यायधीश ” (डिप्टी कलेक्टर)

2. एसडीएम क्या काम करता है?
Ans. एक एसडीएम जिले कि भूमि का लेखा जोखा रखता है, साथ ही देख रख करता है। इसके अलावा अनेक प्रकार के लाइसेंस जारी करना, अपने नीचे काम करने वाले अधिकारियों को सलाह और निर्देश देना, विवाह का रजिस्ट्रशन करना, विभिन्न प्रकार के पंजीकरण करना, प्राकृतिक आपदा जैसे भूकंप, सुनामी, भू स्खलन, ओलावृष्टि से पीड़ित लोगो को सहायता उपलब्ध कराना, जिले में लाइन ऑर्डर करना, जिले में शांति व्यवस्था बनाना और कई अन्य जरूरी काम जिले में sdm द्वारा किए जाते है।

3. एसडीएम की फॉर्म फीस कितनी होती है?
Ans. आपके केटेगरी के अनुसार (Obc, st/sc, General, pwd, महिला) यूपीएससी परीक्षा
की फॉर्म फीस 0 रू. से लेकर 100 रू. तक और पीएससी परीक्षा की फीस में 100 रू. से 750 रू. तक होती है।

4. एसडीएम का फॉर्म कब भर सकते है?
Ans. एसडीएम का फॉर्म भरने के लिए प्रत्येक वर्ष लोक सेवा आयोग द्वारा नोटिफिकशन जारी किया जाता है जिसमें उम्मीदवार के फॉर्म भरने से जुड़ी पूरी जानकारी जैसे आपकी योग्यता (Qualifications), आयु सीमा (Age limit), Exams Date, सिलेबस, फॉर्म भरने की प्रंभिक और अंतिम date सभी की पूरी जानकारी हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में मिलती है।

आप यूपीएससी के नोटिफिकशन को UPSC.govt.in की साइट में जाकर चेक कर सकते है और pdf में डाउनलोड का save भी कर सकते है।

5. एसडीएम बनने के लिए कितने attempt दे सकते है?
Ans. एसडीएम के attempt आपके केटेगरी और age limit पर निर्भर करते है। अलग अलग केटेगरी के उम्मीदवार के लिए एग्जाम्स attempt की सीमाएं निर्धारित की गई है जिन्हे आप Govt. की साइट में जाकर या नोटिफिकशन में चेक कर सकते है।

उदाहरण

  • General – 6 Attempt
  • OBC – 9 Attempt
  • St/Sc – No limit
  • Pwd/ Female- No limit

6. एसडीएम का cut off कितना होता है?
Ans. एसडीएम का cut off प्रत्येक वर्ष भरे जा रहे फॉर्म और उनके परीक्षा परिणाम पर निर्भर करते है।

प्रत्येक वर्ष यूपीएससी और पीएससी में sdm की भर्ती के लिए जो परीक्षाएं आयोजित की जाती है इन उतार चढ़ाव देखने को मिलता है।

यदि हम यूपीएससी परीक्षा में पिछले 5 वर्षों की तुलना करे तो पता चलता है कि upsc का Cut off  90 से 120 के अंदर होता है।

7. एसडीएम कौन बन सकता है?
Ans. कोई भी उम्मीदवार जो भारत का नागरिक हो और जिसने मान्यता प्राप्त विश्ववद्यालय से ग्रेजुएशन किया है, जिसकी आयु कम से कम 21 वर्ष है वह लोक सेवा आयोग की परीक्षा में सम्मिलित होकर sdm बन सकता है।

8. एसडीएम कौन होता है?
Ans. लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित परीक्षा को क्लियर कर चयनित उम्मीदवार जिसे “उप प्रभागीय न्यायधीश” का पद मिलता है उसे एसडीएम कहते है।

9. एसडीएम का पूरा नाम क्या है?
Ans. एसडीएम का पूरा नामSub Divisional Magistrate. जिसे हिंदी में “उप प्रभागीय न्यायधीश ” कहते है।

10.  एसडीएम की तैयारी कैसे करे?
Ans. एसडीएम की तैयारी कने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करे
  • 6th – 12th class All NCERT को पूरी पढ़े।
  • Recommend Book जैसे- Politi – M. Laxmikant, Modern History – Spectrum, Environment – Sankar IAS की किताबो को पढ़े।
  • Daly Standard Newspaer Example – The Hindu, India Express, Times of India में से किसी एक को पढ़े।
  • न्यूज़पेपर के एडिटोरियल के नोट्स बनाए।
  • Monthly मैगजीन जैसे योजना को हर महीने पढ़े और नोट्स बनाए।
  • पिछले 15 वर्षो में पूछे गए Pre और Mains के सभी Question paper को पूरा सॉल्व के।
  • राज्यसभा और लोकसभा टेलिविवन में होने वाली diabetes देखे।
  • Govt. की वेबसाइट को विजिट करते रहे।
  • Government New स्कीम्स, Policys के नोट्स बनाए।
  • सेलेब्स को बार बार पढ़े और याद कर ले।
  • आवश्यक पड़ने पर Coaching Institution का सहारा ले।

दोस्तो आपको हमारे इस आर्टिकल एसडीएम कैसे बने – SDM Full Form In Hindi में जी गई जानकारी कैसी लगी हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताए, और यदि आपको हमारे इस आर्टिकल से जुड़े किसी भी टॉपिक पर कोई सवाल पुछना है तो आप हमसे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है, हम आपके सभी सवालों के जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे। SDM Full Form.

Add a Comment