Oats Meaning In Hindi? ओट्स क्या है? ओट्स के फायदे- 2021

Spread the love

Oats Meaning In Hindi – आज के समय में ओट्स दिनों दिन इतना लोकप्रिय होता जा रहा है कि आज हर कोई चाहे वह टीचर हो, न्यूट्रिशन हो या फिल्मी सितारे। सभी Oats को खाने की सलाह देते है लेकिन क्या आप जानते है कि What is Oats (ओट्स क्या होते है), Oats Meaning In Hindi, ओट्स की खेती कैसे होती है, ओट्स खाने का सही समय क्या है, जई का मतलब और ओट्स का हिंदी नाम क्या है (Oats In Hindi).

लोगो द्वारा Oats का इतना इस्तेमाल क्यों किया जाता है (Oats Benefits). ओट्स और दलिया में फर्क क्या होता है. तो चालिए इस पोस्ट को शुरू करते है और जानते हैै आपके इस सभी सवालों के जवाब क्या है.

ओट्स क्या है- Oats Meaning In Hindi

Oats का हिंदी नाम जई है यानी इसका मतलब है ओट्स को हिंदी में जई कहते हैOats एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जिसमें बहुत सारे अनाज का मिश्रण होता है। यह अच्छा और फायदेमंद खाना है जिसका सेवन लोग खाने के रूप में करते है

ओट्स का वैज्ञानिक नाम “एवेना सैटिवा” है। Oats में खराब मिट्टी में भी भड़ने का गुण होता है।

ओट्स को शरद ऋतु (अक्टूबर) में गेहूं की तरह उगाया जाता है। आज के समय में ओट्स के गुणों को देखते हुए सबसे ज्यादा नाश्ते और रात के खाने में कई प्रकार के व्यंजन या खाना बनाकर स्वाद के साथ खाया जाता है।

ओट्स के फसल की कटाई के बाद साफ कर इसे भुजा जाता है जिससे अलग सा ही स्वाद आ जाता है। Oats में भरपूर मात्रा में फाइबर और पोषक तत्व होते है।

आज Oats पूरे विश्व में भरपूर मात्रा पाया जाने वाला पोस्टिक अनाज है ओट्स के पॉस्टिक और भरपूर प्रोटीन होने के गुण के कारण आज यह लोगो शरीर के लिए ऊर्जा का मुख्य स्रोत बन गया है। Oats Meaning In Hindi

ओट्स कितने प्रकार के होते है.

हमारे बाजार में कई तरह के फ्लेवर के Oats मिलते है लेकिन क्या आप जानते है फ्लेवर युक्त ओट्स उतना फायदेमंद नहीं होता जितना फ्लेवर मुक्त Oats होता है। प्राकृतिक गुणों और पोस्टीक तत्व से भरा Oats का लोग ज्यादा इस्तेमाल करते है।

बाहर में हमारे हेल्थ और स्किन को स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए निम्नलिखित प्रकार के Oats पाए जाते है-

1. Rolled Oast (रॉल्ड ओट्स) – यह ओट्स उच्च गुणवत्ता और अनेक तरह के विटामिन युक्त होता है। Rolled Oast एक प्रकार से आटा जैसा होता है जिसका उपयोग रसोई घर में कुकिंग, ब्रेड, दलिया बनाने में होता है।

2. Scattish Oats (स्कॉटिश ओट्स) – यह बारीक छोटे छोटे टुकड़ों में पाया जाता है।

3. Instant Oats (इंसटेंट ओट्स) इस ओट्स में जल्दी पकने का गुण पाया जाता है । यह पोहा की तरह नरम और पतले होते है।

4. Steem Cut Oats (स्टीम कट ओट्स) – यह ओट्स छोटे छोटे टुकड़ों में मिलता है। स्टीम कट ओट्स पकने में अधिक समय लेता है। यह स्वाद में मीठा और नरम होता है।

5. Groats Outs (ग्रॉट्स ओट्स) – आईएएस Oats में अधिक मात्रा में कैलोरी का भंडार होता है। यह मुख्य और सबसे अच्छा Oats होता है।इसका सेवन दलिया या खिचड़ी के रूप में खाया जाता है।

इन्हें भी पढ़ें

पैसा कमाने के 125 बिजनेस आइडिया

कभी ना बंद होने वाले 4 बिजनेस आइडिया

गांव में कौन सा बिजनेस करे

ओट्स की खेती कैसे होती हैं

क्या आप जानते है ओट्स की खेती कैसे होती है यदि नहीं तो चलिए जानते है

Oats एक प्रकार का अनाज है जिसकी खेती शरद ऋतु में गहू और जौं की तरह की जाती है इसके गुणों और फायदे को देखते हुए आज धीरे धीरे उत्पादन में बढ़ोतरी हुई है लेकिन ज्यादातर किसानों को जानकारी के अभाव होने के कारण कम लागत में अधिक फायदे पहुंचाने वाली इस फसल की खेती से दूर है।

ओट्स एक खरीब फसल है जिसे अक्टूबर माह में शुष्क जलवायु में बोया जाता है। ओट्स की खेती में अच्छा उत्पादन पाने के लिए समय समय पर खाद और पानी देना पड़ता है, इस फसल को 40 से 110 cm वर्षा वाले क्षेत्रों में भी बुवाई कर फसल पैदा किए जाते है।

Oats meaning in Hindi and benefits

जई (ओट्स) के गुण

ओट्स या जई में निमनलिखित प्रकार के गुण पाए जाते है

  • जई शरीर में कोले्ट्रॉल कम करता है जो हमारे हृदय का ख्याल रखती है।
  • जई में ओमेगा ” 6″ और लयोलेनिक एसिड पाया जाता है जो शरीर से कोलेस्ट्रॉल कम करने का कार्य करता है।
  • जई से बनने वाले खाद्य पदार्थ में फाइबर, विटामिन, प्रोटीन होता है जो शरीर में कोले्ट्रॉल की मात्रा को बराबर रखता है।
  • जई का सेवन से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जिसके कारण शरीर की कोशिकाओं में हुई क्षति को जल्दी भरने में मदद करता है।
  • Oats (जई) शरीर में शुगर कंट्रोल करता है।
  • जई का दलिया खाने और पचाने में हल्का होता है।
  • जई से बना दलिया या खाना शरीर के फेट को कम करता हैं।
  • शरीर में कब्ज और पित्त को जानने से रोकता है।
  • वैज्ञानिकों की मानें तो Oats में फाइटो के विकल्प भी पाए जाते हैं जिससे कैंसर का उपचार कर कैसर को फैलने से रोक जाता है।
  • ओट्स का सेवन करने से शरीर का पाचन तंत्र अच्छे से काम करता है।

ओट्स में कौन कौन से तत्व पाए जाते है

दोस्तो हम आपको बता दे की Oats में विटामिन्स और प्रोटीन के अलावा कई तरह के तत्व जैसे कि पोटेशियम, सोडियम, मैग्नीशियम, आयरन, थाइमिन, फास्फोरस, विटामिन B6 और B12, कार्बोहाइड्रेट आदि तत्व भरपूर मात्रा पाए जाते है।

ये तत्व हमारे शरीर की सभी तरह की कमियों को पूरा करके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है और शरी में ऊर्जा का स्रोत बनता है।

इन्हें भी पढ़े

ब्लॉग क्या है? ब्लॉग से पैसे कैसे कमाए

ब्लॉगर क्या है

यूट्यूब चैनल कैसे बनाए और पैसे कैसे कमाए

यूट्यूब चैनल का नाम क्या रखे

Oats (जई) को खाने का सही समय

अब आपका अगला सवाल होगा की जई को खाने का सही समय क्या है?

यदि हम डॉक्टर और न्यूट्रिशन की सलाह माने तो Oats को खाने का कोई सही समय नहीं होता है। आप Oats का सेवन दिन में किसी भी समय कर सकते है।

आज के समय में Oats का ज्यादा इस्तेमाल नासते के समय ज्यादा किया जाता है। ओट्स का सबसे अच्छा गुण यह है कि इसमें फाइबर, मैग्नीशियम, कॉम्प्लेक्स कार्बोहाड्रेट जैसे कई तत्व पाए जाते है जोंलमने समय तक हमारे पेट को भरा रख कर भूख नहीं लगने देते है।

Oats में बहुमुखी प्रकृति का गुण होता है इसमें कम कैलोरी होती है इसका सेवन आप सुबह दिन में वर्कआउट के बाद शरीर में भरपूर पोषक तत्व, विटामिन मिनरल की पूर्ति करने के लिए अनाज के रूप में करते है।।

ओट्स कहां मिलता है

भारत में Oats का सर्वाधिक उत्पादन हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, पाश्चिम बंगाल और उड़ीसा जैसे राज्यो में होता है।

किसानों द्वारा Oats या जई का उत्पादन कर कम दाम में मंडियों, सेठ साहूकारों और व्यापारियों को बेचा जाता है जिसकी मिलिग और पैकेजिंग करके पुनः बाजारों में ऊंचे दामों में लोगो को बेचा जाता है।

आप Oats या जई को आज Online बाजार जैसे – Amagon, Flipcard, मॉल्स, किराने की दुकान, राशन की दुकान में जाकर जई को खरीद सकते है और अपने भोजन में इस्तेमाल कर सकते है।

यदि आप कम दामो में जई को खरीदना चाहते है तो आप सीधे किसानों के पास से खरीद सकते है।

ओट्स (जई) खाने के तरीके

  • हरी सब्जियों के साथ अच्छे से पका कर खाए
  • जई को शूप या खिचड़ी बनाके खाए.
  • जई के दानों को अंकुरित करके स्प्रेड सलाद बनाकर सेवन करे.
  • जई को आप सुबह के समय ताजे फल और दूध के साथ खा सकते है।

ओट्स खाने के फायदे (Oats Benefits)

ओट्स खाने के फायदे इस प्रकार है

  • उच्च रक्त चाप।
  • मधुमेह ठीक करने में फायदेमंद है।
  • शरीर में इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए फायदेमंद है।
  • कैंसर के उपचार में फायदेमंद है।
  • ह्रदय संबंधित रोग के उपचार में फायदेमंद है।
  • शरीर की त्वचा को सुंदर बनाने में।
  • तनाव या डि प्रेशन को कम करने में।
  • आंत को ठीक करने जिससे भोजन के पाचन को अच्छा करने में।
  • शरीर के वजन को कम करने में।
  • कोलेस्ट्रॉल को कम करने में।
  • शरीर में कब्ज और जुखाम को ठीक करने में।
  • शरीर में रक्तचाप नियंत्रित करने में।
  • शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में।
  • सिर के रूसी को कम करने में फायदेमंद है।

ओट्स खाने के नुकसान

  • कम पके ओट्स का सेवन करने से पेट से जुड़ी परेशानियां होने लगती है।
  • Oats का अधिक सेवन करने से हमारे शरीर में थकान मांसपेशियां में कमजोरी, हड्डियों में दर्द, सिर दर्द, बलो में झड़न, चिंता जैसे खतरनाक बीमारियां हो सकती है।
  • ओट्स (जई) बाजार में कई तरह की आती है जिनमे कई चीजों की मिलावट होती हैं यदि मधुमेह के मरीज है तो शुगर फ्री Oats का ही सेवन करे। शुगर के बने ओट्स (जई) को खाने से बचें।
  • Oats (जई) में अधिक मात्रा में फेटिक एसिड होता है इसका अत्यधिक सेवन हमारे शरीर के स्वास्थ्य के लिए समस्या बन सकता है।

1kg Oats की कीमत कितनी होती है

अलग अलग बाजार में ओट्स की कीमत अलग अलग होती है जिनमे से कुछ इस प्रकार है

पतंजलि ओट्स प्राइस – 175rs/ 1kg.

Amagon Oats Price – 45rs से 275rs / 1kg.

Flipcard Oats Price – 50rs से 270rs / 1kg.

इन्हें भी पढ़ें

UPSC का फुल फॉर्म

IAS का फुल फॉर्म

LPG का फुल फॉर्म

CNG का फुल फॉर्म

OK का फुल फॉर्म

DP का फुल फॉर्म

निष्कर्ष

ओट्स को हिंदी में जई के नाम से जाना जाता है। ओट्स में कई तरह के तत्व जैसे पोटेशियम, मैग्नीशियम, आयरन, प्रोटीन, फास्फोरस कार्बोहाइड्रट्स पाए जाते है जो हमारे शरीर को ऊर्जा देने के साथ साथ कई तरह की बीमारियों को होने से बचाता है।

दोस्तो आज आपने इस आर्टिकल में Oats क्या है? Oats Meaning in hindi के बारे में विस्तार से जाना है। हम उम्मीद करते है इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको Oats in Hindi के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। दोस्तो आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा हमे जरूर Comment Box में Comment करके बताए और इस पोस्ट के आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा आपके दोस्तो को सोशल मीडिया में शेयर करे।

Add a Comment